टीबी हारेगा जीतेगा इंडिया का तीसरा चरण शुरू

कौशाम्बी : टीबी हारेगा देश जीतेगा अभियान का दो चरण विभाग ने सफलतापूर्वक पूर्ण कर लिया है। इसमें 100 नये टीबी मरीज पाये गये है। इन सभी मरीजों का पंजीकरण करके उनका इलाज करने का काम शुरू हो गया है। जिले में अभियान का तीसरे चरण की शुरूआत 13 जनवरी को मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा किया गया था जिसे विभाग 25 जनवरी तक जिले में चलाया जायेगा।

जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. सनद कुमार झा ने बताया कि अभियान 26 दिसम्बर 2020 से शुरू हुआ था। इसमें पहले चरण में 26 दिसम्बर से एक जनवरी तक जिला कारागार, वृद्धाश्रम, मदरसा,अनाथालय, महिला शरणालय जैसे स्थानों पर क्षय रोग विभाग ने अभियान चलाकर क्षय रोगग्रस्त रोगियों का चिन्हीकरण किया | इसके बाद अभियान का दूसरा चरण 2 जनवरी से 12 जनवरी 2021 तक दस दिवसीय डोर-टू’डोर अभियान चलाया गया। दूसरे चरण के अभियान में 100 नये टीबी मरीज पाये गये। सभी मरीजों की जांच कराने के बाद क्षय रोग की पुष्टि होने पर उनका इलाज भी विभाग ने तत्काल शुरू किया। इस चरण में जनपद के 3.66.869 लोगों की कवर करने का लक्ष्य रखा गया था। इसमें आशा, आंगनबाड़ी व एएनएम की टीम के द्वारा घर-घर टीबी रोगियों को खोजने का कार्य किया गया।

जिला कार्यक्रम ऑफिसर अभिषेक तिवारी ने बताया कि तीसरे चरण का अभियान 25 जनवरी तक चलेगा। इस अभियान में जिले के निजी चिकित्सालयों में तैनात डाक्टरों और मेडिकल स्टोर के संचालकों, पैथालीजी आदि स्थानों पर विभागीय टीम नये मरीजों को खोजने का कार्य करेगी। इसके लिए जिले में दो सदस्यीय सात टीमों का गठन किया गया है। जो जिले के ब्लाकों में अलग-अलग जाकर निजी चिकित्सालयों में जाकर टीबी अभियान से जुड़े सदस्यों से सम्पर्क कर रोगियों के विषय में विस्तारपूर्वक जानकारी लेगे। उनका पोर्टल पर पंजीकरण कर उन्हें पांच सौ रूपये प्रोत्साहन भत्ता दिलाने का कार्य किया जायेगा। इसके अलावा जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के प्रभारी चिकित्साधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि वह भी इस अभियान में टीबी मरीज को अधिक से अधिक खोजकर टीबी हारेगा देश जीतेगा के अभियान को सफल बनावें। उन्होंने बताया कि सत्र 2019-20 में निक्षय पोर्टल पर 1115 लाभार्थोयो को पंजीकृत कर 25.50 लाख की धनराशि वितरित की गयी हैं |